भारत का संविधान

"हम भारतवासी,गंभीरतापूर्वक यह निश्चय करके कि भारत को सार्वभौमिक,लोकतांत्रिक गणतंत्र बनाना है तथा अपने नागरिकों के लिए------- न्याय--सामाजिक,आर्थिक,तथा राजनैतिक ; स्वतन्त्रता--विचार,अभिव्यक्ति,विश्वास,आस्था,पूजा पद्दति अपनाने की; समानता--स्थिति व अवसर की व इसको सबमें बढ़ाने की; बंधुत्व--व्यक्ति की गरिमा एवं देश की एकता का आश्वासन देने वाला ; सुरक्षित करने के उद्देश्य से आज २६ नवम्बर १९४९ को संविधान-सभा में,इस संविधान को अंगीकृत ,पारित तथा स्वयम को प्रदत्त करते हैं ।"

Visitors

गुनाहगार लगे हैं सभी....!!

गुरुवार, 20 नवंबर 2008



दिल में बेकली हो तभी हर शाम गुनाहगार लगे है तभी....
शिद्दत हो गर दिल में तो...अपने ही यार लगे है सभी...!!
यार दो बोल मीठा भी बोल दे तो मान जाऊं मैं अभी...
नफरत से लबालब तिरे ये हर्फ़ तो तलवार लगे है सभी....!!
भीतर जो देख ले आदम तो ख़ुद को बदल ही दे अभी...
बाहर तो इक अपने अपने सिवा खतावार ही लगे है सभी..!!
हर कोई हर किसी को माफ़ कर दे तो सब बदल जाए...
मन में बोझ लेकर जीने से जीना भी दुश्वार लगे है सभी..!!
चन्द साँसे ही सौगात में लेकर आयें हैं हम सब यहाँ...
हर नेमत को आपस में बाँट लें,कि यार लगे है सभी....!!
मुहब्बत भरा दिल ये जो अपने पास ना हो "गाफिल"
चूम कर कलियाँ कहें फूल को,कि खार लगे हैं सभी....!!
Share this article on :

4 टिप्‍पणियां:

Amit K. Sagar ने कहा…

रचना सचमुच बहुत अच्छी है. फ़िर भी मुझे थोड़े से हेर-फेर की गुंजायश लगी. लिखते रहें.

अनुपम अग्रवाल ने कहा…

लम्हे कहें शब्दों को चूमकर, यार लगे हैं सभी

आदर्श राठौर ने कहा…

भाई जी बहुत बढ़िया।
और हां www.imeem.com पर जाकर साइन करें और अपनी फाइल अपलोड़ करें। अपलोड हो जाने के बाद उसका कोड लें, लेकिन कोड लेने से पहले ऑटो प्ले पर क्लिक करना न भूलें। बस फिर क्या, उस कोड की जावास्क्रिप्ट को अपने ब्लॉग की बगल पट्टी में डाल दें।
हो गया काम।
कल तक मुझे भी नहीं पता था, लेकिन बिना किसी के सलाह के एक्सपेरिमेंट करते करते आ गया। कोई समस्या आए तो बताइएगा। और हां pyala.blogspot.com पर ज़रूर आना

bhoothnath ने कहा…

aadarsh bhaayi dhanyavad...ab apna music taiyaar karun..tab aage badhungaa...aur ye kya ki aapke blog par aanaa bhul jaaungaa...kyaa baat karte ho aap...??

 
© Copyright 2010-2011 बात पुरानी है !! All Rights Reserved.
Template Design by Sakshatkar.com | Published by Sakshatkartv.com | Powered by Sakshatkar.com.